Tag Archives: Hamid

Lala Jaswant Singh Ki Haveli….by Mirza Hamid Baig

लाला जसवंत सिंह की हवेली मिर्ज़ा हामिद बेग़ उर्दू से हिंदी: शीराज़ हसन  वागाह से क्लेअरेंस के बाद जब समझोता एक्सप्रेस लाहौर रेलवे स्टेशन पहुंची तो चर्लोजी और काजू के पैकिट, पान छालिया के थैले, बनारसी और ज़रदोज़ी के बोरी (की बोरियां?) … Continue reading

Posted in Pakistani Writers | Tagged , , , , , , , , , , , , , , , , , , | 10 Comments